अनियमितता क्या हैं? What Is Random? In Hindi

Random एक अंग्रेजी शब्द हैं जिसका मतलब होता हैं – अनियमित, अव्यवस्थित या क्रमरहित. ब्रह्माण्ड में ज्यादातर घटनाए Randomly (बेतरतीब ढंग से) ही होती हैं. कोई भी चीज़ यहाँ पर पहले से निश्चित नहीं हैं. तो ये अनियमित या अव्यवस्थित (Random) होने का मतलब क्या हैं? दुनिया की सबसे ज्यादा random चीज़ कौन सी हैं? ज्यादातर कुछ अप्रत्याशित या कुछ ऐसा जिसका पैटर्न पहचानने के लायक ना हो, उसे random कहा जाता हैं.

तो सबसे पहले शुरुआत करते हैं सिक्का उछालने के साथ. मेरा मतलब हैं अगर किसी सिक्के को उछाला जाए जैसे की क्रिकेट मैच के शुरू होने से पहले उछाला जाता हैं, तो उसमे यह स्पष्ट नहीं होता की उछालने के बाद उसकी कौन सी साइड ऊपर की तरफ होगी? ये एक random चीज़ हैं. परिणाम कुछ भी हो सकता हैं, लेकिन आप उसे पहले से नहीं जान सकते हैं. यह सब चीज़े random हैं, केवल हमारी जहालत या अज्ञान के कारण. लेकिन अगर हम पहले से ही सिक्के के उछालने की शुरुआत की स्थिति को देखकर, हमारे हाथ के द्वारा उस पर पडनेवाले सटीक बलों और गुणों को समज ले तो हम शायद जान सकते हैं की निचे गिरने पर सिक्के की कौन सी साइड ऊपर की तरफ रहेगी. और इस विषय पर काम भी शुरू हो गया हैं. वैज्ञानिक ऐसे रोबोट्स बना रहे हैं जिसकी मदद से सिक्के को उछालने पर आप चाहे उस साइड को पा सकते हैं.

तो यहाँ पर हमारे कुछ सवाल हैं. क्या ऐसा कुछ हैं जिसके बारे में आप सबकुछ जानते हुए भी उसके बारे में एकदम सही भविष्यवाणी नहीं कर सकते? क्या यह बिना किसी चीज़ के द्वारा निर्धारित प्रक्रिया हैं? आप कैसे कह सकते हैं की आप के द्वारा देखे जानेवाली किसी भी चीज़ या घटना में कोई पैटर्न नहीं हैं? शायद अपने अभी तक सही पैटर्न को देखा ही न हो. या फिर हो सकता हैं आपने पहले से ही सही randomness को देखा हो लेकिन उसके बारे में जानते न हो, क्योंकि आप लंबे समय तक उसे नहीं देख पाए हो, क्योंकि शायद वह किसी छलावरण से संरक्षित हो सकती हैं. लेकिन सच कहे तो random प्रक्रियाए कभी कभी पैटर्न्स का उत्पादन करती हैं.

अगर आप YouTube पर किसी विडियो को अपलोड करते हैं तब उसकी जो URL जनरेट होती हैं वह एकदम random होती हैं. या फिर आप किसी बन्दर को टाइपराइटर पर टाइप करने के लिए बिठा दे तो उसके द्वारा टाइप किए गए शब्द एकदम random होंगे. वास्तव में बात यह हैं की Randomness की पहचान करना मुश्किल है. क्योंकि निश्चित होना random होने से आसान हैं. जैसे की मैंने पहले कहाँ की अगर हम पहले से ही सिक्के के उछालने की शुरुआत की स्थिति को देखकर, हमारे हाथ के द्वारा उस पर पडनेवाले सटीक बलों और गुणों को समज ले तो हम उसके एकदम सही परिणाम की भविष्यवाणी कर सकते हैं. तो क्या हम ऐसा नहीं कर सकते हैं? खैर, यह बहुत मुश्किल है. क्योंकि छोटे से छोटे मापों का अंदाजा लगाना और सिक्के पर पडनेवाले बलों की एकदम सटीक दिशा का पता लगाना हमारे लिए नामुमकिन हैं.

READ  Antimatter एंटीमेटर

अगर हम अधिक random प्रणाली चाहते हैं तो जैसे मैंने पहले कहाँ उसी तरह हमें बिना किसी चीज़ के द्वारा निर्धारित प्रणाली खोजनी होंगी. उसके लिए काफी गहराई तक जाना पड़ेंगा. क्वांटम लेवल की गहराई तक. क्वांटम यांत्रिकी के पास हमारा जवाब हो सकता है. यह क्वांटम आकार की चीजों के गुणों का वर्णन करता है, संभावनाओं के रूप में. सिर्फ संभावनाए. इसलिए नहीं क्योंकि हमारे लिए किसी भी चीज़ के निश्चित होने की भविष्यवाणी करने के लिए पूरी तरह से जानकारी नहीं हैं, बल्कि इसलिए क्योंकि, यहाँ भविष्यवाणी करने के लिए कुछ हैं ही नहीं. ऐसी कोई चीज़ नहीं हैं जिसे हम पहले से जान सकते हैं. आप चाहे या ना चाहे, किसी रेडियोएक्टिव परमाणु का क्षय होंगा या नहीं या फिर उसके अन्दर के इलेक्ट्रान के स्पिन कितने हैं, यह चीज़े सिर्फ हमारे लिए एक बार देखने के लिए हैं. उसके घटित होते वक़्त या होने के बाद, लेकिन उसके होने से पहले नहीं. हमारे ब्रह्माण्ड की सभी चीज़े random हैं. चाहे आप सबसे बड़ी चीज़ को ले या सबसे छोटी चीज़ को.

READ  ब्रह्माण्ड की सबसे छोटी चीज़ क्या हैं?

आइंस्टीन इस बात पर विश्वास नहीं करते थे. उन्होंने यह स्वीकार करने के लिए मना कर दिया की, “भगवान ने ब्रह्माण्ड के साथ Dice (पासा) खेला हैं.” लेकिन entangled particles के साथ किए गए प्रयोग यह दिखाते हैं की ऐसे पार्टिकल्स बेल असमानताओं का उल्लंघन करते हैं. हम जानते हैं की entangled particles बहुत दूरी पर होने के बावजूद भी एकसमान गुणों का प्रदर्शन करते हैं. किसी भी चीज़ के क्वांटम गुणों को देखने का मौका पहले से मौजूद नहीं हैं. वे तब घटित होते हैं जब आप उन्हें देखते हैं. तो अगर आप बोरिंग या पूर्वकथनीय महसूस कर रहे हो तो सिर्फ इतना याद रखे की आप खरबों क्वांटम संभावनाओं से बने हैं. यह संभावनाए कुछ ऐसी हैं जिस हमने कभी सोचा ही नहीं हैं. यह सबसे ज्यादा random चीज़ हैं. तो क्या ब्रह्माण्ड में यह सारी randomness भगवान के द्वारा पूर्वनिर्धारित हैं? में नहीं जानता की भगवान ने ब्रह्माण्ड के साथ Dice (पासा) खेला हैं या नहीं, लेकिन इतना जरूर कहूँगा की अगर खेला हैं तो वे ब्रह्माण्ड का सबसे बेस्ट Dice था.

READ  कैसे करे खुद को मोटीवेट? 20 Ways to Motivate Yourself In Hindi
(Visited 53 times, 1 visits today)

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

'
Shares