क्या होगा अगर पृथ्वी अचानक ही घुमना बंद कर दे? What Would Happen If The Earth Stopped Spinning?

What Would Happen If The Earth Stopped Spinning

पृथ्वी अपनी धुरी पर घुमती हैं (Earth Rotation) यह तो हम सब जानते हैं. उसके घुमने से ही रात-दिन संभव होते हैं और हमारा हर रोज का जीवन चक्र चलता हैं. पृथ्वी के साथ साथ हम भी घूमते हैं. लेकिन क्या होगा अगर पृथ्वी अचानक ही घूमना बंद कर दे?What Would Happen If The Earth Stopped Spinning? पृथ्वी का घूमना बंद होने से सबसे पहले तो आपका वजन बढ़ जाएगा. हमारे ग्रह का घुमना बहुत ही जरुरी हैं क्योंकि वह आपको अपने जीवन को जीने के लिए समय दे रही हैं. पृथ्वी की सतह की भूमध्य रेखा (equator) पर सबकुछ प्रति सेकंड 465 मीटर की तेजी से घूमता हैं. लेकिन जैसे जैसे आप ध्रुव प्रदेशों की तरफ जाएगे तो आपको equator के जितना नहीं घूमना पड़ेगा. लेकिन निश्चित रूप से अगर आप हवा में सीधा ऊपर कूदते हैं तो पृथ्वी अपनी जगह से आगे नहीं खिसक जाएगी क्योंकि तब आप भी उसके साथ घुमना जारी रखेगे. इसलिए अगर पृथ्वी घुमना बंद कर दे तो निश्चित रूप से कुछ भी अच्छा नहीं होगा.

यह स्थिति बहुत ही भयानक होगी. सभी चीजें जो पृथ्वी नहीं हैं (जो पृथ्वी से मजबूती से जुडी नहीं हैं) और जो ध्रुव प्रदेशों पर सुरक्षित नहीं हैं वे सब पृथ्वी के स्थिर हो जाने के बाद भी उसी गति से अपना मोशन जारी रखेंगी. वह सभी चीजें एक हजार मिल प्रति घंटे की रफ़्तार से हवा में पश्चिम दिशा की तरफ उड़ जाएगी. तब आपका शरीर अचानक ही एक 9.5 इंच की कैलिबर गोली बन जाएगा. जिसकी गति सुपर सोनिक गति से भी ज्यादा हैं. जो लोग विमान में होगें उनको पृथ्वी का मलबा तो नहीं लगेगा लेकिन वे अचानक से आते हवा के तेज जोंको से नहीं बच पाएगे.

जो लोग अंतरिक्ष में आंतर्राष्ट्रीय स्पेस स्टेशन में होंगे उनके लिए बचने की संभावनाए हो सकती हैं लेकिन पृथ्वी पर वापस आने के बाद उनके स्वागत के लिए कोई नहीं बचा होगा. पृथ्वी पर हर जगह तबाही मच जाएगी. चारो तरफ मलबा ही मलबा होगा. जो लोग ध्रुव प्रदेशों में होगे वह शायद बच जाएगे. लेकिन ज्यादा देर तक नहीं. हवा के जोंके इतने तेज होगे जितने परमाणु विस्फोट से पैदा होते हैं. दुनियाभर में एक बड़ा ही विशाल तूफ़ान पैदा होगा. यह तूफ़ान किसी भी मजबूत चीज़ को तबाह कर देगा.

सूरज एक जगह पर स्थिर दिखेगा. एक दिन 24 घंटे की जगह 365 दिन का हो जाएगा. घुमना बंद हो जाने के कारण पृथ्वी का सुरक्षात्मक चुंबकीय क्षेत्र गायब हो जाएगा और पृथ्वी पर घातक मात्रा में सूरज का रेडिएशन हमला कर देगा. पृथ्वी के महासागरों में कई किलोमीटर जितनी ऊँची सुनामी लहरे पैदा होगी और सारे सूखे इलाको को तबाह कर देगी. पृथ्वी का वातावरण धीरे धीरे स्थिर हो जाएगा और कोई किसी भी तरह का मौसम नहीं रहेगा.

READ  खाली जगह किस चीज़ से बनी हैं? What is Empty Space Made Of?

अगर पृथ्वी बहुत ही तेजी से घुमती हैं तो हम उस गति को महसूस क्यों नहीं कर पाते? पृथ्वी के तेजी से घुमने से हमे चक्कर क्यों नहीं आते हैं? खैर, हमारे लिए यह एक भाग्यशाली तथ्य हैं की पृथ्वी के वेग में परिवर्तन बहुत ही क्रमिक है. यह कुछ इस तरह हैं की, हमे एक कार चलाते वक़्त 6,000 मिल के एक लेफ्ट टर्न को लेते समय 6 घंटे लगेंगे. इसलिए हमारे इस घुमते ग्रह पर आपकी गति हमेशां बदलती रहती हैं. अगर पृथ्वी अपनी रेग्युलर गति से 17 गुना ज्यादा तेजी से घुमने लगती हैं तो आप वजन रहित हो जाएगे.

READ  मोटापा घटाने के उपाय Weight Loss Tips in Hindi

यह सब तब होगा जब पृथ्वी घुमना बंद कर दे. पर ऐसा होने की संभावना ना के बराबर हैं. लेकिन पृथ्वी की घुमने की गति धीमी जरुर हो रही हैं. लेकिन यह गति बहुत ही ज्यादा धीमी हैं. 140 करोड़ वर्षों के बाद पृथ्वी पर एक दिन में 24 घंटे नहीं होगे बल्कि वे बढ़ कर 25 हो जाएगे.

(Visited 186 times, 1 visits today)

17 Comments

  1. krishna

    बढ़िया जानकारीपूर्ण लेख…..

    Reply
  2. Rskesh

    धरती की अपनी धुरी पर घुमने की गति क्या है ।प्रति सेकण्ड मे बतलाये

    Reply
    1. umang prajapati

      465 meters/second

      Reply
    2. umang prajapati

      1,040 miles/hour

      1675 km/h

      Reply
    3. कपिल शर्मा

      २७०० किमी०/घण्टा

      Reply
  3. Rskesh

    सर जी ,यह बतलाये की क्या धरती के साथ धरती का वायुमन्डल भी घुमता है??ओर यदि जवाब yes हे तो धरातल से कितने km की उचाई तक इसका प्रभाव रहता है
    Please बतलाये

    Reply
    1. umang prajapati

      जी हाँ पृथ्वी के साथ साथ उसका वायुमंडल भी घूमता हैं. यह वायुमंडल पृथ्वी की सतह से लगभग 300 मिल की ऊंचाई तक फैला होता हैं. लेकिन ज्यादातर 80% जितना वायुमंडल पृथ्वी से 10 मिल की ऊंचाई तक होता हैं. उसके ऊपर तक जाते वह पतला होने लगता हैं.

      Reply
  4. anurag

    agar earth ka motion ruk gaya to ham sabse phle kis baat se marenge

    Reply
  5. abhishek

    Comment…here is a my question plz solve this…. jaise hum sbhi ko pata h ki earth rotate krta rehta h continuously or hame pata b nhi chalta. chalo its okay… but for eg. agar hum helipad k through hawa me latke h,Jo dharti ko touch b nhi krta, helipad jidhar pe h thiik usi k neeche ek tree h, or 10 mins k baad jab hum jump lagate h to WO tree oosi jagah par kaise h jabki oose to rotate hona chahiye, or hum to helipad k through earth se attached b nhi h, phir q jump lagane k baad tree wahi par hota h … jabki rotate hone k wajah se mere jump krne par tree to rotation mode me hone se hat Jana chahiye naa… plz rep m not challenge u but m confuse

    Reply
    1. umang prajapati

      वह इसलिए क्योंकि,हमारी पृथ्वी के साथ साथ वातावरण भी रोटेट होता हैं…हेलिपैड और वह पेड़ दोनों एक ही गति से घूम रहे होते हैं….अब आप बस में उड़ रही एक मक्खी को ही ले लीजिये….

      Reply
  6. juned khan

    sir i want to know ki pritvi clockwize kyo ghomti he detailme ptana sir

    Reply
  7. AZhar

    Dharti ki ghumne ki speed kam ho rahi hai lr 14 crore sal bad 1din me 25 hour ho jayenge jaisa kaha gya hai isme agar is formule ko ulta kiya jaye to kbi 1din me 1hour raha hoga hmari dharti kb bni hai iska pta chal jayega asani se

    Reply
  8. papu kumar

    agr dharti ghumna band kar de to 182din and 6ghanta lagna chahiye din rat hone me lagna chahiye please sir mere sawal ka jabab de

    Reply
  9. vandna

    My question:jab earth ghumti hai toh hum jaise sidhe khadhe hue hai toh earth Ki rotation ke sath hum ulte bhi hote hai par hum Vo ultapan jaan kyun nai pate aur na hi girte.Aaisa kyun?

    Reply
    1. umang prajapati

      उसका कारण हैं गुरुत्वाकर्षण…..और…हमारी पृथ्वी उस उलटेपन को जानने के लिए हमारे लिए बहुत बड़ी हैं….आप इस बात का अनुमान एक विशाल गोल पत्थर पर चीटी के चलने से लगा सकती हैं.

      Reply
  10. nirmal kumar jha

    agar dharti me pura aar paar chhed kar de, or usme ek pathar ka tukra dal de to wo pathar ka tukra kha jayega?

    Reply
  11. Asif Raza

    sir,
    earth nast kaise hogi?

    Reply

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

'
Shares