पदार्थ क्या हैं? What is Matter?

पदार्थ क्या हैं? What is Matter? हम जानते हैं की सभी पदार्थ तीन स्वरुप में होते हैं: Solid ,Liquid और Gasब्रह्माण्ड यह में सबकुछ मौजूद क्यों हैं? चीजे घटित क्यों होती हैं? चलिए इस द्रष्टिकोण के लिए स्टेप बाय स्टेप कोशिश करते हैं. आप किस चीज़ से बने हैं? आप एक पदार्थ हैं जो अणुओं का बना हैं, अणु परमाणुओं के बने हैं, परमाणु प्राथमिक कणों (Elementary Particles) से बने हैं. लेकिन यह प्राथमिक कण ब्रह्माण्ड में मौजूद सबसे छोटी चीज़ हैं, जिन्हें अबतक हम जानते हैं. तो वो आखिर किस चीज़ के बने हैं? इस सवाल के लिए आप सोचिए की ब्रह्माण्ड में में कुछ भी मौजूद नहीं हैं. वह एकदम क्लीन हैं. ब्रह्माण्ड में कोई भी पदार्थ, एंटीमेटर या रेडिएशन नहीं हैं. अब जो चीज़ बचती हैं उस खाली जगह पर नज़र डालते हैं. यह पूरी तरह से खाली हैं. खाली जगह हमे सभी चीजों के बिल्डिंग ब्लॉक्स देती हैं, किसी भी चीज़ या तत्व को खुद के अन्दर रखने के लिए. यह ब्रह्माण्ड की सबसे खतरनाक से भी खतरनाक वस्तु को उसका अस्तित्व साबित करने का मौका देती हैं. तो इसकी शक्ति के बारे में में ज़रा एक बार फिर से सोचिएगा. एक अर्थ में अगर सोचे तो खाली जगह ज्यादातर एक विशाल शांत सागर की तरह हैं. पानी में जबतक कुछ होता नहीं तब तक वह शांत होता हैं, लेकिन एक तेज हवा का जोका एक बड़ी सी लहर पैदा कर सकता हैं. हमारा ब्रह्माण्ड भी कुछ इसी तरह से काम करता हैं. यहाँ पर हर जगह ऐसे महासागर हैं, जिन्हें भौतिकविद “क्षेत्र (fields)” कहते हैं.

READ  पृथ्वी की सबसे खतरनाक जगह कहाँ पर है? Most Dangerous Places in The World

Motion of an Electron

उदाहरण के लिए विकिरण(Radiation) के बारे में सोचते हैं, जिसको विद्युत चुम्बकीय क्षेत्र के रूप में भी जाना जाता है. एक छोटा सा और फुर्तीला कण होता हैं, जिसे हम फोटोन कहते हैं. एक ऐसा कण जिसके अन्दर रेडिएशन होता हैं, और इस रेडिएशन को हम प्रकाश(Light) समजते हैं. ब्रह्माण्ड में हर एक कण इसी तरह से बना हैं. किसी भी पदार्थ के कण के लिए अपने अलग नियमों के साथ अलग क्षेत्र(fields) होते हैं, आप चाहे स्केल में जितना भी निचे जाए, यह चलता ही रहेंगा. उदाहरण के लिए, विद्युत चुम्बकीय क्षेत्र को ही ले लीजिए, ब्रह्माण्ड में हर जगह एक इलेक्ट्रॉन क्षेत्र हैं. लेकिन यह सिर्फ एक हद का स्केल हैं. आप ब्रह्माण्ड में किसी भी स्केल पर हो, चाहे वो सबसे बड़ा स्केल(जैसे की गैलेक्सी क्लस्टर) हो या सबसे छोटा(जैसे की सब एटोमिक पार्टिकल्स), वहां से आप infinite(अनंत) लेवल तक स्केल से ऊपर या निचे जा सकते हैं. कुल मिलाकर, हमारा ब्रह्माण्ड 17 तरह के कणों का उत्पादन करता हैं (जिन्हें हम अबतक जानते हैं), जिन्हें 3 केटेगरीयों में विभाजित किया गया हैं : लेप्टोंस, क्वार्क और बोसॉन.

higgs-boson MATTER Definition and Meaning

लेप्टोंस इलेक्ट्रॉन्स के बने होते हैं, और उसके चचेरे भाई म्युओंस और ताऊ कण भी. इसमे से हर एक के पास एक संबद्ध न्यूट्रिनो होता है. क्वार्क, कणों के न्यूक्लियर परिवार होते हैं. वे हमेशा समूहों और जोड़े में ही एक साथ स्थापित होते हैं, जो प्रोटोंस और न्युट्रोन्स को बनाते हैं. यह प्रोटॉन और न्यूट्रॉन परमाणु के नाभिक(nuclei) को बनाते हैं. इलेक्ट्रॉनों और क्वार्कों से पदार्थ के अणु बनते हैं, जिनसे आप जो भी कुछ देख सकते हैं वह सबकुछ बना हैं. जैसे के हवा, जिससे आप साँस लेते हैं. सूरज, जो आपको गर्म रखता हैं. आपका खाना और कंप्यूटर या फ़ोन जो अभी आप इस्तेमाल कर रहे हैं.

READ  Is There a God भगवान

लेकिन ब्रह्माण्ड में चीज़ें सिर्फ मौजूद ही नहीं हैं, वे कुछ ना कुछ करती भी हैं. अगर एक फिलोसोफिकल अर्थ में देखे तो, चीजों के लिए उनके गुण उतने ही जरुरी भाग हैं, जितना खुद उनका अस्तित्व हैं. उनके गुणों की वजह से ही वे भौतिक रूप से अस्तित्व में आते हैं. जैसे की बोसॉन और क्षेत्र खेल में उतरते है, तब जाकर क्वार्क और लेप्टोंस इन क्षेत्रों से बनते हैं. बोसॉन बलिय क्षेत्रों से बनता हैं. ब्रह्माण्ड का मुख्य नियम एक बल(Force) हैं, और इसलिए हमारे ब्रह्माण्ड के चार बुनियादी बल हैं; Electromagnetism(विद्युत), Gravity(गुरुत्वाकर्षण), मजबूत न्यूक्लियर बल(strong nuclear forces) और कमजोर परमाणु बल(weak nuclear forces). यह चार बल हमारे ब्रह्माण्ड के खेल की नियम बुक हैं. जहाँ हम कृतियाँ हैं और यह ब्रह्माण्ड एक खेल.

बल और कण को एकसाथ ले, तो वे अस्तित्व के टिंकर खिलौने की तरह हैं. बोसॉन संदेशवाहक की तरह हैं, जो सब के बिच में होता हैं. यह अन्य कणों को जोड़ने के लिए और किसी भी तरह के आदानप्रदान के कार्य करने के लिए जरुरी कण हैं. क्वार्क विद्युत चुंबकत्व और मजबूत न्यूक्लियर बल की मदद से एकदूसरे के साथ इंटरैक्ट कर सकते हैं. लेकिन इलेक्ट्रॉन मजबूत न्यूक्लियर बल का इस्तेमाल नहीं करते, बल्कि केवल विद्युत चुंबकत्व का इस्तेमाल ही करते हैं. तो मुद्दे की बात यह हैं की, क्वार्क मजबूत न्यूक्लियर बल का विनिमय करते हैं. बोसॉन, मजबूत न्यूक्लियर बलों के बिच का कम्युनिकेशन हैं. नाम नहीं काम बोलता हैं.

READ  Meditation in Hindi - ध्यान

तो मूल रूप से देखा जाए तो आप एक सागर में मौजूद अव्यवस्था(disturbances) से ज्यादा कुछ नहीं हैं. एक सागर, जो ऊर्जा से उत्तेजित हैं और बलों द्वारा निर्देशित हैं, जो ब्रह्माण्ड के नियमों को बनाता हैं.

(Visited 116 times, 1 visits today)

1 Comment

  1. bhupal bhakuni

    बहुत अच्छी जानकारी

    Reply

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

'
Shares