सरकारी कॉलेज में एमबीबीएस कोर्स की फीस

सरकारी कॉलेज में एमबीबीएस कोर्स की फीस

 

सरकारी कॉलेज में एमबीबीएस कोर्स की फीस

 

सरकारी कॉलेज में एमबीबीएस कोर्स की फीस और राज्यवार सीटें

 

सरकारी कॉलेज में एमबीबीएस कोर्स की फीस :- वर्तमान में भारत में एमबीबीएस पाठ्यक्रम पढ़ाने वाले 542 मेडिकल कॉलेज हैं। और एमबीबीएस सीटों की कुल संख्या 83,000 (लगभग) है। इन 542 मेडिकल कॉलेजों में से 273 सरकारी कॉलेज हैं और सरकारी कॉलेजों में एमबीबीएस सीटों की कुल संख्या 41,480 है।

 

मेडिकल, डेंटल और आयुष पाठ्यक्रमों को आगे बढ़ाने के लिए लगभग सोलह लाख से अधिक उम्मीदवार NEET परीक्षा में शामिल होंते है। नीट में शामिल होने वाले हर उम्मीदवार का सपना होता है कि वह सरकारी कॉलेज में एमबीबीएस कोर्स में या तो अखिल भारतीय काउंसलिंग से या अपनी संबंधित स्टेट कोटा काउंसलिंग प्रक्रिया से एमबीबीएस में प्रवेश ले।

 

दोस्तों कुल 41,480 एमबीबीएस सरकारी कॉलेज सीटों में से, कुल 6,222 एमबीबीएस सीटें अखिल भारतीय काउंसलिंग के लिए उपलब्ध हैं, जो कि 15% है। ये सीटें सभी नीट क्वालिफाइड उम्मीदवारों के लिए उपलब्ध होंगी और सीटों का आवंटन नीट ऑल इंडिया रैंक के आधार पर होगा। उम्मीदवार अपनी पसंद के किसी भी राजकीय मेडिकल कॉलेज में योग्यता के आधार पर प्रवेश ले सकते हैं।

 

अच्छे सरकारी कॉलेज में एमबीबीएस कोर्स की फीस भारत में

 

सरकारी कॉलेज में एमबीबीएस कोर्स की फीस राज्य/संघ राज्य क्षेत्र और उसमे मौजूद सरकारी कॉलेज और उस कॉलेज की कुल सीट और सरकारी कॉलेज में एमबीबीएस कोर्स की फीस आदि की समस्त जानकारी नीचे दी गयी है ।


उत्तराखंड मे 4 सरकारी एमबीबीएस कोर्स के कॉलेज है जिनमे कुल 525 सीट है और इसमें एमबीबीएस कोर्स की फीस अधिकतम 426500 है ।


 तमिलनाडु मे 26 सरकारी एमबीबीएस कोर्स के कॉलेज है जिनमे कुल 3650 सीट है और इसमें एमबीबीएस कोर्स की फीस अधिकतम 400000 है ।


पंजाब मे 4 सरकारी एमबीबीएस कोर्स के कॉलेज है जिनमे कुल 659 सीट है और इसमें एमबीबीएस कोर्स की फीस अधिकतम 150000 है ।


पांडिचेरी मे 2 सरकारी एमबीबीएस कोर्स के कॉलेज है जिनमे कुल 380 सीट है और इसमें एमबीबीएस कोर्स की फीस अधिकतम 137000 है ।


मध्य प्रदेश मे 14 सरकारी एमबीबीएस कोर्स के कॉलेज है जिनमे कुल 2040 सीट है और इसमें एमबीबीएस कोर्स की फीस अधिकतम 117850 है ।


अंडमान निकोबार मे 1 सरकारी एमबीबीएस कोर्स के कॉलेज है इसमे कुल 100 सीट है और इसमें एमबीबीएस कोर्स की फीस अधिकतम 116650 है ।


गोवा मे 1 सरकारी एमबीबीएस कोर्स के कॉलेज है इसमे कुल 180 सीट है और इसमें एमबीबीएस कोर्स की फीस अधिकतम 112500 है ।


महाराष्ट्र मे 25 सरकारी एमबीबीएस कोर्स के कॉलेज है इसमे कुल 4330 सीट है और इसमें एमबीबीएस कोर्स की फीस अधिकतम 105045 है ।


दिल्ली मे 8 सरकारी एमबीबीएस कोर्स के कॉलेज है इसमे कुल 1222 सीट है और इसमें एमबीबीएस कोर्स की फीस अधिकतम 101000 है ।


 हरियाणा मे 5 सरकारी एमबीबीएस कोर्स के कॉलेज है इसमे कुल 710 सीट है और इसमें एमबीबीएस कोर्स की फीस अधिकतम 100000  है ।


 तेलंगाना मे 11 सरकारी एमबीबीएस कोर्स के कॉलेज है इसमे कुल 1790 सीट है और इसमें एमबीबीएस कोर्स की फीस अधिकतम 100000 है ।


पश्चिम बंगाल मे 19 सरकारी एमबीबीएस कोर्स के कॉलेज है इसमे कुल 3050 सीट है और इसमें एमबीबीएस कोर्स की फीस अधिकतम 100000 है ।


राजस्थान मे 15 सरकारी एमबीबीएस कोर्स के कॉलेज है इसमे कुल 2700 सीट है और इसमें एमबीबीएस कोर्स की फीस अधिकतम 82200 है ।


आंध्र प्रदेश मे 13 सरकारी एमबीबीएस कोर्स के कॉलेज है इसमे कुल 2410 सीट है और इसमें एमबीबीएस कोर्स की फीस अधिकतम 77100 है ।


 त्रिपुरा मे 1 सरकारी एमबीबीएस कोर्स का कॉलेज है इसमे कुल 125 सीट है और इसमें एमबीबीएस कोर्स की फीस अधिकतम 75100 है ।


 दादरा और नगर हवेली मे 1 सरकारी एमबीबीएस कोर्स के कॉलेज है इसमे कुल 150 सीट है और इसमें एमबीबीएस कोर्स की फीस अधिकतम 60100 है ।


 हिमाचल प्रदेश मे 6 सरकारी एमबीबीएस कोर्स के कॉलेज है इसमे कुल 720 सीट है और इसमें एमबीबीएस कोर्स की फीस अधिकतम 60000 है ।


उत्तर प्रदेश मे 26 सरकारी एमबीबीएस कोर्स के कॉलेज है इसमे कुल 3178 सीट है और इसमें एमबीबीएस कोर्स की फीस अधिकतम 54600 है ।


मिजोरम मे 1 सरकारी एमबीबीएस कोर्स के कॉलेज है इसमे कुल 100 सीट है और इसमें एमबीबीएस कोर्स की फीस अधिकतम 50550 है ।


छत्तीसगढ़ मे 7 सरकारी एमबीबीएस कोर्स के कॉलेज है इसमे कुल 770 सीट है और इसमें एमबीबीएस कोर्स की फीस अधिकतम 50000 है ।


 बिहार मे 10 सरकारी एमबीबीएस कोर्स के कॉलेज है इसमे कुल 1240 सीट है और इसमें एमबीबीएस कोर्स की फीस अधिकतम 50000 है ।


अरुणाचल प्रदेश मे 1 सरकारी एमबीबीएस कोर्स के कॉलेज है इसमे कुल 50 सीट है और इसमें एमबीबीएस कोर्स की फीस अधिकतम 43000 है ।


 केरल मे 10 सरकारी एमबीबीएस कोर्स के कॉलेज है इसमे कुल 1555 सीट है और इसमें एमबीबीएस कोर्स की फीस अधिकतम 35000 है ।


असम मे 7 सरकारी एमबीबीएस कोर्स के कॉलेज है इसमे कुल सीट 1000 है और इसमें एमबीबीएस कोर्स की फीस अधिकतम 31000 है ।


उड़ीसा मे 8 सरकारी एमबीबीएस कोर्स के कॉलेज है इसमे कुल 1250 सीट है और इसमें एमबीबीएस कोर्स की फीस अधिकतम 30000 है ।


गुजरात मे 17 सरकारी एमबीबीएस कोर्स के कॉलेज है इसमे कुल 3650 सीट है और इसमें एमबीबीएस कोर्स की फीस अधिकतम 28754 है ।


चंडीगढ़ मे 1 सरकारी एमबीबीएस कोर्स के कॉलेज है इसमे कुल 150 सीट है और इसमें एमबीबीएस कोर्स की फीस अधिकतम 25000 है ।


मणिपुर मे 2 सरकारी एमबीबीएस कोर्स के कॉलेज है इसमे कुल 225 सीट है और इसमें एमबीबीएस कोर्स की फीस अधिकतम 9200 है ।


झारखंड मे 7 सरकारी एमबीबीएस कोर्स के कॉलेज है इसमे कुल 630 सीट है और इसमें एमबीबीएस कोर्स की फीस अधिकतम 9130 है ।


 मेघालय मे 1 सरकारी एमबीबीएस कोर्स के कॉलेज है इसमे कुल 50 सीट है और इसमें एमबीबीएस कोर्स की फीस अधिकतम 6050 है ।

 

सरकारी कॉलेज में एमबीबीएस कोर्स की फीस आदि से जुड़े सवाल

 

 

भारत में सरकारी कॉलेज में एमबीबीएस की फीस कितनी है ?

 

भारत में एक सरकारी मेडिकल कॉलेज में एमबीबीएस कार्यक्रम के लिए ट्यूशन फीस औसतन 20,000 रुपये से लेकर 7.5 लाख रुपये तक है। दूसरी ओर, एक निजी कॉलेज में एमबीबीएस कार्यक्रम के लिए ट्यूशन, 20 लाख से लेकर 10 लाख से अधिक तक भी हो सकती है।

 

एमबीबीएस कोर्स इतना महंगा क्यों है ?

 

एमबीबीएस की डिग्री भारत में बेहद महंगी है, खासकर देश के कई निजी चिकित्सा संस्थानों में, जिनमें से कई भारतीय राजनेताओं द्वारा नियंत्रित हैं। भारतीय निजी चिकित्सा संस्थानों में प्रवेश पाने के लिए जो योगदान या कैपिटेशन शुल्क देना होगा, वह इस समस्या का प्राथमिक कारण है।

 

क्या एमबीबीएस छात्रों को वेतन मिलता है ?

 

एक छात्र जिसने हाल ही में अपना एमबीबीएस कार्यक्रम पूरा किया है, वह स्नातक होने के तुरंत बाद 25,000 रुपये से 35,000 रुपये प्रति माह के क्षेत्र में प्रारंभिक आय का अनुमान लगा सकता है।

 

क्या 1 लाख नीट रैंक अच्छी है ?

 

भले ही आपको NEET UG में एक लाख का रैंक मिला हो, फिर भी आपके पास एक प्रतिष्ठित कॉलेज में प्रवेश पाने का एक उचित मौका है। भारत में कई उत्कृष्ट मेडिकल स्कूल हैं, और वे सभी प्रवेश के लिए अपने मानदंड के समान रेटिंग का उपयोग करते हैं।

 

 

क्या एक गरीब छात्र डॉक्टर बन सकता है ?

 

निम्न आय वर्ग के लोगों के डॉक्टर बनने में असमर्थ होने जैसी कोई बात नहीं है। अपनी शिक्षा जारी रखने और अपनी एमबीबीएस की डिग्री प्राप्त करने के लिए आपको नीट परीक्षा देनी होगी। सरकारी कॉलेज में प्रवेश पाने के लिए आपको कम से कम 600 या उससे अधिक अंक प्राप्त करने होंगे।

 

कौन सा देश एमबीबीएस फ्री में करवाता है ?

 

जर्मनी में फ्री मेडिकल स्कूलिंग की पेशकश की जाती है। जर्मनी में, सार्वजनिक संस्थानों में पीएचडी कार्यक्रमों में नामांकित छात्रों को कोई ट्यूशन फीस देने की आवश्यकता नहीं है। लेकिन हाँ रहने की औसत लागत देश के एक क्षेत्र से दूसरे क्षेत्र में काफी भिन्न होती है।

 

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ